Adhir Ranjan Chowdhury

कौन हैं अधीर रंजन चौधरी? जिन्‍होंने राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू पर की विवादित टिप्‍पणी

अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) एक भारतीय राजनेता हैं। वह भारतीय राष्‍ट्रीय कांग्रेस पार्टी के वरिष्‍ठ नेताओं में से एक हैं। अधीर रंजन चौधरी सत्रहवीं लोकसभा के सदस्‍य हैं। वहीं इससे पहले वह तेरहवीं, चौदहवीं, पंद्रहवीं और सोलहवीं लोकसभा के सदस्य भी रह चुके हैं। इसके साथ ही वह पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस के अध्‍यक्ष पद पर भी रह चुके हैं। आइए आज जानते हैं अधीर रंजन चौधरी का जीवन परिचय (Adhir Ranjan Chowdhury Biography in Hindi)…

Adhir Ranjan Chowdhury

अधीर रंजन चौधरी की संक्षिप्‍त जीवनी – Adhir Ranjan Chowdhury Biography in Hindi

पूरा नामअधीर रंजन चौधरी
जन्‍मतिथि02 अप्रैल 1956 (आयु- 66 वर्ष)
जन्‍मस्‍थानबरहामपुर, जिला- मुर्शिदाबाद (पश्चिम बंगाल)
शैक्षिक योग्‍यताहाईस्‍कूल
पिता का नामनिरंजन चौधरी
मां का नामसरजूबाला चौधरी
पत्‍नी का नाम1- अर्पिता चौधरी (1987 में शादी, 2019 में निधन),
2- अतासी चटोपाध्‍याय चौधरी (2019 में शादी…)
बेटी1- श्रेयशी चौधरी (साल 2006 में निधन),
2- सुश्री होइमोंती
पेशासमाज सुधारक व राजनीतिज्ञ
पार्टीभारतीय राष्‍ट्रीय कांग्रेस
पद17वीं लोकसभा सदस्‍य
धर्महिंदू
नेटवर्थ10 करोड़ रुपये से अधिक

जन्‍म व माता-पिता

अधीर रंजन चौधरी का जन्‍म 2 अप्रैल 1956 के दिन पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले के बरहामपुर में हुआ था। उनके पिता का नाम (Adhir Ranjan Chowdhury Father Name) निरंजन चौधरी और मां का नाम सरजूबाला चौधरी है।

शिक्षा

अधीर रंजन चौधरी की प्रारंभिक शिक्षा बरहामपुर से ही पूरी हुई। उन्‍होंने हाईस्‍कूल तक पढ़ाई की है।

वैवाहिक जीवन

अधीर रंजन चौधरी ने 15 सितंबर 1987 को अर्पिता चौधरी से शादी की। अधीर रंजन चौधरी और अर्पिता चौधरी की बेटी श्रेयसी चौधरी का साल 2006 में 18 वर्ष की उम्र में अपार्टमेंट की छत से गिरकर निधन हो गया था। पुलिस को शक था कि उनकी बेटी ने आत्‍महत्‍या की है। वहीं साल 2019 में अर्पिता चौधरी का भी निधन हो गया। इसके बाद साल 2019 में अधीर रंजन चौधरी ने अतासी चटोपाध्‍याय चौधरी से शादी की। इन दोनों की एक बेटी सुश्री होइमोंती हैं।

राजनीतिक जीवन

अधीर रंजन चौधरी, राजीव गांधी के समय से भारतीय राष्‍ट्रीय कांग्रेस पार्टी से जुड़े। साल 1991 में वे पहली बार पश्चिम बंगाल विधानसभा के नाबाग्राम निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़े, लेकिन यहां उन्‍हें हार का सामना करना पड़ा। वहीं इसके बाद साल 1996 में वह पहली बार नाबाग्राम निर्वाचन क्षेत्र से विधायक चुने गए।

फिर पहुंचे संसद

साल 1999 में अधीर रंजन चौधरी ने पहली बार बरहामपुर लोकसभा सीट से आम चुनाव लड़ा और पहली बार में ही वह 13वीं लोकसभा के सदस्‍य चुन लिए गए। इसके बाद अधीर रंजन चौधरी लगातार 14वीं, 15वीं, 16वीं और 17वीं लोकसभा के सदस्‍य भी चुने गए।

मनमोहन सरकार में बने मंत्री

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की सरकार में अधीर रंजन चौधरी को 28 अक्टूबर 2012 को केंद्रीय मंत्रालय में रेल राज्यमंत्री के रूप में जगह दी गई। रेल राज्‍यमंत्री का कार्यभार संभालने के बाद अधीर रंजन चौधरी कई विषयों पर समीक्षा बैठकें कीं और समय-समय पर कई रेलवे स्‍टेशनों का निरीक्षण भी किया।

फिर बने पश्चिम बंगाल कांग्रेस के अध्‍यक्ष

अधीर रंजन चौधरी को 10 फरवरी 2014 को पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष नियुक्‍त किया गया।

अधीर रंजन चौधरी ताजा समाचार

अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury Statement on President Draupadi Murmu) ने गुरूवार को राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को लेकर एक विवादित बयान दिया। इसके बाद से राजनीतिक गलियारों में सियासी भूचाल मचा हुआ है। एक तरफ जहां उनके इस बयान पर बीजेपी हमलावर है तो वहीं अब राष्‍ट्रीय महिला आयोग भी हरकत में आ गया है। राष्‍ट्रीय महिला आयोग ने अधीर रंजन चौधरी को नोटिस भेजा है और 3 अगस्‍त को उन्‍हें सफाई देने के लिए तलब किया है।

FAQ’s

अधीर रंजन चौधरी कौन हैं?

अधीर रंजन चौधरी एक भारतीय राजनेता व समाज सुधारक हैं। वह भारतीय राष्‍ट्रीय कांग्रेस के सदस्‍य हैं।

अधीर रंजन चौधरी की पत्‍नी कौन हैं?

अधीर रंजन चौधरी की पत्‍नी अतासी चटोपाध्‍याय चौधरी हैं। साल 2019 में दोनों की शादी हुई थी।

अधीर रंजन चौधरी के बेटी का नाम क्‍या है?

अधीर रंजन चौधरी के बेटी का नाम सुश्री होइमोंती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

भारतीय सेना अग्निवीर भर्ती 2022 के रजिस्ट्रेशन शुरू, ऐसे करें आवेदन कलौंजी इन बिमारियों का है रामबाण इलाज, ऐसे करें उपयोग इन बिमारियों से दूर रखता है अखरोट, आज से ही खाना करें शुरू
भारतीय सेना अग्निवीर भर्ती 2022 के रजिस्ट्रेशन शुरू, ऐसे करें आवेदन कलौंजी इन बिमारियों का है रामबाण इलाज, ऐसे करें उपयोग इन बिमारियों से दूर रखता है अखरोट, आज से ही खाना करें शुरू