Health

बादाम खाने के फायदे और नुकसान | Almond Benefits and Side Effects In Hindi

दिमाग और सेहत के लिए बादाम (Badam) को फायदेमंद माना गया है। इसमें मौजूद गुणों के कारण आयुर्वेद ने भी बादाम को अहम माना है। इसी वजह से घर के बड़े-बुजुर्ग रोजाना भिगोकर बादाम खाने की सलाह देते हैं। हालांकि सर्दियों में ज्यादातर लोग बादाम को अपनी डाइट में शामिल करते है।

Badam

कहा जाता है कि बादाम खाने (Badam) से याददाश्त तेज होती है और कई प्रकार की शारीरिक व मानसिक बीमारी से बचा जा सकता है। बदाम में प्रोटीन, ऊर्जा, फाइबर, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, पोटेशियम, फास्फोरस, सोडियम, जिंक, विटामिन बी सिक्स, विटामिन ई आदि महत्वपूर्ण पौष्टिक तत्वों की मात्रा मौजूद है।

इन बातों की सच्चाई जानने के लिए आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बादाम के फायदे और नुकसान के बारे में जानकारी शेयर करेंगे।

बादाम के फायदे- Badam ke Fayde

दिमाग के विकास के लिए उपयोगी

बादाम याददाश्त बढ़ाने और मस्तिष्क के विकास के लिए बेहतर माना गया है। इसका सेवन करने से बच्चे, बड़े और बुजुर्ग को बीमारी से बचाता है। साथ ही कॉगनिटिव डिस्फंक्शन (याददाश्त कमजोर होना) को रोकने में मदद कर सकता है। इसके अलावा, बादाम को रातभर भिगोकर सुबह खाली पेट खाने की सलाह दी जाती है।

तेजी से करे वजन कम

बादाम का सेवन (Badam) वजन कम करने कारगर मानी जाती है। लेकिन इस बात का ध्‍यान जरूर रखें कि इसे नियंत्रित मात्रा में खाना चाहिए। अगर आप बादाम खाते हैं तो आपको पेट के भरे रहने का अहसास होगा। इसके अलावा ज्यादा भूख भी नहीं लगेगी।

हड्डियों के लिए फायदेमंद

हड्डियों को मजबूत बनाने में खाली पेट बादाम का सेवन करना फायदेमंद माना जाता है। एक्सपर्टस के अनुसार हड्डियों के लिए कैल्शियम और मैग्नीशियम जैसे पोषक तत्व बेहद जरूरी हैं। ये दोनों न्यूट्रिएंट्स बादाम में मौजूद हैं। इसी वजह से बादाम के फायदे में हड्डी स्वास्थ्य को भी शामिल किया गया है।

डायबिटीज को कंट्रोल करने में उपयोगी

जिन लोगों को मधुमेह की समस्या (badam) है वे बादाम को खा सकते है। इससे डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद मिलेगी। इसके अंदर फाइबर, लो कार्बोहाइड्रेट और अनसैचुरेटेड फैट्स शामिल होने के वजह से टाइप टू डायबिटीज के जोखिम को कम कर सकता हैं। साथ खाली पेट बादाम का सेवन करने से ब्लड में ग्लूकोज का स्तर भी कम हो सकता है।

ये भी पढ़ें- गुड़ के फायदे और नुकसान, इन 10 समस्याओं का है रामबाण इलाज

याददाश्त को तेज करने में कारगर

याददाश्त के लिए बादाम का सेवन (badam) एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है। बता दें कि बढ़ती उम्र के कारण समय के साथ व्यक्ति की याददाश्त कमजोर हो जाती है। ऐसे में इस समस्या से निजात पाने के लिए बादाम बेहद कारगर साबित हो सकता है। इसके अलावा इसके अंदर पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड और पॉलिफिनॉल्स मौजूद होते हैं जो याददाश्त को कम करने में उपयोगी हैं।

त्वचा के लिए उपयोगी

अगर रात में भिगोकर सुबह खाली पेट बादाम का सेवन (badam) करना त्वचा के लिए उपयोगी साबित हो सकती है। ऐसा इसलिए क्योंकि बदाम में एंटी इंफ्लेमेट्री गुण मौजूद हैं जो न केवल ड्राई स्किन की समस्या से छुटकारा दिला सकता है बल्कि सोरायसिस, एग्जिमा जैसी समस्याओं से निजात भी दिलाने में उपयोगी है।

पाचन क्रिया को करे मजबूत

इस ड्राई फ्रूट का सेवन करने से पाचन क्रिया मजबूत के साथ तंदुरुस्त भी हो सकती है। बता दें कि बदाम की स्किन में प्रोबायोटिक्स और फाइबर दोनों ही मौजूद होते हैं। जिससे आंतों के बैक्टीरिया की गतिविधि में सुधार लाया जा सकता है।

शरीर में बढ़ाए ऊर्जा

बादाम (badam) में प्रोबायोटिक्स और फाइबर आदि पोषक तत्व है। जो शरीर में उर्जा बनाए रखने के साथ सुस्ती, थकान आदि को दूर करने में रामबाण है। ऐसे में रात में चार से पांच बादाम भिगोकर खाने में उपयोगी है। ऐसा करने से दिनभर शरीर में उर्जा बनी रह सकती है।

बालों के लिए रामबाण

बालों को स्वस्थ और लंबा बनाए रखने में बादाम का सेवन (badam) फायदेमंद है। एक स्टडी में दावा किया गया है कि बादाम में मौजूद प्रोटीन, विटामिन और टोकोफेरोल बालों के विकास को बढ़ाने में मदद कर सकता है। साथ ही बादाम के तेल के इस्तेमाल से बालों को उचित पोषण मिलता है, जिससे बाल मुलायम और मजबूत बन सकते हैं।

बादाम के नुकसान- Badam ke nuksan

फूड एलर्जी की समस्या

खाली पेट बादाम का सेवन करने से शरीर में फूड एलर्जी की समस्या हो सकती है।

स्वास्थ्य संबंधी जटिलताएं

गर्भवती महिलाओं में स्वास्थ्य संबंधी जटिलताएं हैं, तो खाली पेट बादाम का सेवन करने से पहले एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।

गैस की समस्या

बादाम के अंदर फाइबर होता है। ऐसे में इसकी अधिकता सेवन से पेट में गैस (पेट फूलना), सूजन और ऐंठन जैसी समस्या हो सकती है।

किडनी में स्टोन की समस्या

एक स्टडी में दावा किया गया है कि बादाम में ऑक्सालेट कंपाउंड पाया जाता है, जिससे किडनी में स्टोन की समस्या हो सकती है।

डाइजेशन करने में दिक्कत

डाइजेशन की दिक्कत से जूझ रहे लोगों को भी बादाम का सेवन करने से बचना चाहिए। बादाम में काफी मात्रा में प्रोटीन और विटामिन होते हैं। जिसके चलते बादाम को डाइजेस्ट करने में ज्यादा परेशानी हो सकती है।

नोट- यहां दिए गए बादाम के फायदे और नुकसान सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं। इनका उपयोग करने से पहले किसी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।

FAQ’s

बादाम की तासीर कैसी है?

बादाम की तासीर गर्म होती है।

एक दिन में कितने बादाम खाएं?

एक दिन में 8 से 10 बादाम खाना लाभकारी हो सकता है।

क्या बादाम को खाली पेट खा सकते हैं?

बादाम में कई पोषक तत्व होते हैं। ऐसे में खाली पेट बादाम खाना सुरक्षित और लाभकारी माना जा सकता है।

अगर बिना भिगोए बादाम खा लें, तो क्या होगा?

बिना भिगोकर बादाम खाने से फायदे है, लेकिन बादाम भिगोकर खाने से आसानी से डाइजेस्ट हो जाते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Black Water क्या है? जो सेलिब्रिटीज की है पहली पसंद जानिए अब तक कितना बन गया है राममंदिर? Digital Rupee क्या है? जानिए कैसे बदलने वाली है आपकी जिंदगी IPL 2023 में आ रहा विस्फोटक ऑलराउंडर, धोनी के छक्के भी पड़ जाएंगे फीके विराट कोहली का इन हसीनाओं से रह चुका है चक्कर