Kishmish ke fayde

किशमिश के फायदे और नुकसान | Raisin Benefits and side effects in hindi

किशमिश (kishmish ke fayde) को हम कई तरिकों से डाइट में शामिल करते हैं। वैसे तो किशमिश को ज्यादातर लोग भिगोकर खाना पसंद करते है। ये सेहत के लिए काफी फायदेमंद होती है। किशमिश कई अच्छे गुणों से भरपूर माना जाता है। खासतौर पर किशमिश (kishmish ke fayde) सर्दियों के मौसम में इसको खाने से दोगुना फायदे होते हैं।

Kishmish ke fayde

किशमिश (kishmish ke fayde) उन लोगों के लिए भी बेहद लाभदायक होती है जो शरीर से कमजोर और जिनकी एनर्जी काफी लो रहती है। किशमिश में फाइबर, प्रोटीन, आयरन, पोटैशियम, कॉपर और विटामिन बी-6 जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। 

किशमिश क्या है

किशमिश, सूखे मेवों की श्रेणी में आता है। जिसे अंगूरों को सुखाकर बनाया जाता है। इस प्रक्रिया में अंगूरों को लगभग तीन हफ्तों तक धूप में सुखाकर उसका मॉइस्चर निकाला जाता है। सेहत के लिए किशमिश को लाभकारी (kishmish ke fayde) माना गया है। यह कई जरूरी फाइटोकेमिकल्स से समृद्ध होती है।

भारत में किशमिश के नाम

हिन्दीकिशमिश
अंग्रेजीराइसिन
तेलुगुएंडुद्राक्षा
तमिलऊलर धराक्षी
मलयालमउनक्कु मुन्थिरिंगा
कन्नडवोनाद्राकशी
गुजरातीलाल द्राक्ष
मराठीमनुका

किशमिश के फायदे- kishmish ke fayde

कब्ज में कारगर

किशमिश का सेवन (kishmish ke fayde) कब्ज में कारगर साबित होता है और साथ ही पाचन तंत्र में सुधार होता है। इसमें पाए जाने वाला फाइबर जठरांत्र संबंधी मार्ग से जहरीले पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। 10 से 12 किशमिश को दूध में अच्छे से उबाल लें और रात में सोने से पहले इसका सेवन करें। इसका एक हफ्ते तक सेवन करने से आपको जल्द ही कब्ज के इलाज से निजात मिल जाएगा।

Also Read- ये 5 फूड डायबिटीज को करते हैं कंट्रोल, आज से करें सेवन

वजन बढ़ाने में मदद

कई लोग ऐसे होते हैं जो वजन बढ़ाने के लिए बहुत सारे उपाय करते हैं। किशमिस के अंदर अधिक मात्रा में ऊर्जा का स्त्रोत है। किशमिश खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा (kishmish ke fayde)को जमा किए बिना वजन बढ़ाने में आपकी कारगर है। विटामिन, एमिनो एसिड और सेलेनियम और फास्फोरस जैसी खनिजों की वजह से यह आपके शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद है।

कैंसर जैसी घातक बीमारी में मददगार

किशमिश में औषधीय गुण की मात्रा ज्यादा होती है। मुक्त कण प्राथमिक कैंसर वाले कारकों में से एक हैं, जो कैंसर कोशिकाओं की वृद्धि करते हैं। इसलिए, अपने आहार में किशमिश को शामिल करने से आपको कैंसर जैसी घातक बीमारी को रोकने में मदद मिल सकती है।

त्वचा के लिए लाभदायक

किशमिश पौष्टिक होने के साथ ही साथ त्वचा को स्वस्थ और सुंदर बनाता है। किशमिश किसी भी क्षति से कोशिकाओं की रक्षा करती है। इससे शरीर को साफ और चमकदार त्वचा पाने के लिए जहरीले पदार्थों को बाहर निकालने में कारगर है।

बालों के लिए उपयोगी

किशमिश (kishmish ke fayde) बालों के लिए काफी उपयोगी है। इसमें विटामिन बी, लोहा, पोटेशियम और एंटीऑक्सीडेंट जैसे पोषक तत्व शामिल है। किशमिश में मौजूद लोहा जैसा पोषक तत्व बालों को स्वस्थ्य बनाए रखने में कारगर हैं। शरीर में लोहे की कमी रूखे और बेजान बाल और बालों के झड़ने का कारण बन सकती है। आयरन शरीर में रक्त परिसंचरण में सुधार करता है और हेयर फॉलिकल्स की कोशिकाओं को उत्तेजित करता है। यह बालों के प्राकृतिक रंग को बनाए रखने में भी मददगार है।

डायबिटीज में फायदा

एक स्टडी में दावा किया गया है कि किशमिश पोस्ट-प्रेन्डियल इंसुलिन प्रतिक्रिया को कम कर सकती है, जिसका अर्थ है कि खाने के बाद इनका सेवन इन्सुलिन के स्तर का बढ़ना या कम होना रोककर इन्सुलिन को नियंत्रित रखता है। शुगर वाले मरीजों के लिए ये फायदेमंद हो सकता है। हालांकि डायबिटीज के मरीज अपने खाने की मात्रा को कंट्रोल रख सकते हैं और ज़्यादा खाने से अपना बचाव कर सकते हैं।

एनीमिया को करे दूर

किशमिश में लोहे की काफी मात्रा (kishmish ke fayde) पाई जाती है जो एनीमिया (खून की कमी) के उपचार में कारगर है। इसमें विटामिन बी कॉम्प्लेक्स के कई अन्य तत्व भी शामिल होते हैं जो नए रक्त के गठन के लिए आवश्यक होते हैं। किशमिश में मौजूद तांबा की उच्च मात्रा लाल रक्त कोशिकाओं के गठन में भी मदद करती है।

पाचन को रखे स्वस्थ

रोजाना किशमिश का सेवन करना पेट के लिए अच्छा होता है। अगर किशमिश को भिगो कर रोज सुबह खाया जाए तो यह पाचन के लिए ज्यादा फायदेमंद होता है। किशमिश पेट को साफ रखने में प्रभावी है और कब्ज से राहत दिलाता है।

बुखार में लाभकारी

प्रोनोलिक फाइटोन्यूट्रीएंट्स (शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले तत्त्व) जो कि अपने जीवाणुनाशक, एंटीबायोटिक और एंटीऑक्सीडेंट गुणों के लिए जाने जाते हैं। यह तत्व किशमिश (kishmish ke fayde) में प्रचुर मात्रा में पाया जाता है और वायरल और जीवाणु संक्रमण से हुए बुखार के इलाज में सहायक है।

हड्डियों के लिए कारगर

हमारी हड्डियों के लिए कैल्शियम बहुत ही जरूरी होता है जो कि किशमिश (kishmish ke fayde) में मिलती है। इसके अलावा यह ड्राई फ्रूट बोरान (एक सूक्ष्म पोषक तत्व) का भी सबसे अच्छा स्रोत होता है। पोटेशियम एक और आवश्यक पोषक तत्व है जो कि किशमिश में उच्च स्तर में पाया जाता है, जो हड्डियों को मजबूत और विकास को बढ़ाने में कारगर है, जिससे ऑस्टियोपोरोसिस की संभावना कम करने में मदद करेगी।

किशमिश खाने के नुकसान – Side Effects of kishmish

किशमिश का पाचन क्रिया पर असर

किशमिश में फाइबर की मात्रा अधिक होती है। यह पाचन क्रिया के लिए काफी फायदेमंद होती है। किशमिश से डायरिया जैसी समस्या को ठीक किया जा सकता है लेकिन पानी पीए बिना किशमिश का अधिक सेवन करने से आपको डिहाईड्रेशन, अपच और अन्य पेट संबंधित समस्याएं हो सकती है।

स्किन एलर्जी

किशमिश से कुछ लोगों को एलर्जी की भी समस्या स जुझना पड़ सकता है। ऐसे में अगर आप पहली बार किशमिश का सेवन कर रहे हो और आपको स्किन रैशेज या त्वचा में खुजली होती है तो इसका सेवन करने से बचें।

बढ़ता है वजन

किशमिश में कैलोरी की मात्रा काफी ज्यादा होती है। ऐसे में अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो सीमित मात्रा में ही इसका सेवन करना चाहिए।

बढ़ता है ब्लड शुगर लेवल

किशमिश में शुगर और कैलोरी की मात्रा काफी अधिक होती है ऐसे में कम मात्रा में इसका सेवन आपको फायदा पहुंचा सकता है लेकिन इसे ज्यादा खाने से आपका ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है।

FAQ’S

किशमिश की तासीर कैसी होती है?

किशमिश की तासीर गर्म होती है।

क्या सुखी किशमिश खाना सुरक्षित है?

जी हां, सूखी किशमिश खाना सुरक्षित है, लेकिन अगर किसी को किशमिश से एलर्जी है तो वो उसका सेवन न करें।

खाली पेट किशमिश खाने के फायदे क्या हैं?

माना जाता है कि खाली पेट किशमिश खाने के फायदे पेट से जुड़ी समस्याओं से आराम दिला सकते हैं, लेकिन इस बात का कोई वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नही है।

किशमिश को शहद में भिगोकर खाने के फायदे क्या हैं?

किशमिश को शहद में भिगोकर खाने से इसके फायदे दोगुने हो सकते हैं।

भीगी हुई किशमिश खाने के फायदे क्या हैं?

ऐसा माना जाता है कि भीगी हुई किशमिश खाने के फायदे आंत और पेट को स्वस्थ रखने का काम कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

भारतीय सेना अग्निवीर भर्ती 2022 के रजिस्ट्रेशन शुरू, ऐसे करें आवेदन कलौंजी इन बिमारियों का है रामबाण इलाज, ऐसे करें उपयोग इन बिमारियों से दूर रखता है अखरोट, आज से ही खाना करें शुरू
भारतीय सेना अग्निवीर भर्ती 2022 के रजिस्ट्रेशन शुरू, ऐसे करें आवेदन कलौंजी इन बिमारियों का है रामबाण इलाज, ऐसे करें उपयोग इन बिमारियों से दूर रखता है अखरोट, आज से ही खाना करें शुरू