Methi ke Fayde

चौंका देंगे आपको मेथी के फायदे, इन बीमारियों के लिए है रामबाण

शरीर में होने वाले बीमारियों के लिए मेथी के फायदे  (Methi ke Fayde) बहुत बताए गए हैं। मेथी किचन का जायका होता है। हर घर में इसका इस्तेमाल तड़का के तौर पर किया जाता है। हर सब्जी में मेथी का उपयोग होता है और स्वाद दोगुना हो जाता है। इसे खाने के अलावा स्वास्थ्य लाभ के लिए भी उपयोगी है। मेथी भारत के अलावा दक्षिण यूरोप, भूमध्य क्षेत्र और पश्चिम एशिया में भी पाई जाती है।

Methi ke Fayde

मेथी के स्वास्थ्य लाभ पाने के लिए सब्जी में डालकर, पानी में भिगोकर, अंकुरित करके आदि तरीकों से खाया जाता है। तो वहीं, खाली पेट मेथी (Methi ke Fayde) दाना खाने के भी असरदार फायदे हैं।

एक्सपर्टस का कहना है कि मेथी के दाने में सोल्युबल फाइबर, ऊर्जा, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स जैसे पोषक तत्त्व पाए जाते हैं जिस वजह से खाली पेट खाने से यह ब्लड शुगर, वजन प्रबंधन, सूजन आदि परेशानियों में फायदेमंद होती है।

मेथी क्‍या है? Methi ke Fayde

मेथी एक प्रकार की औषधीय और खाद्य सामग्री है, जिसे कई तरह से डाइट में शामिल किया जाता है। मेथी के दानें हो या इसके पत्ते हर तरह से लाभदायक हैं। इसका पौधा दो-तीन फुट लंबा होता है और इसकी फली में छोटे-छोटे पीले-भूरे रंग के सुगंधित दाने लगे रहते हैं। इसकी पर्याप्त मात्रा में खेती भूमध्य क्षेत्र, दक्षिण यूरोप और पश्चिम एशिया में होती है।

मेथी अलग-अलग नामों से प्रचलित

मेथी को भारत में अलग-अलग नामों से जाना जाता है। जहां हिंदी, गुजराती, मराठी, बंगाली और पंजाबी में इसे मेथी कहते हैं, वहीं संस्कृत में इसका नाम मेथिका है। कन्नड़ में इसे मेन्तिया, तेलुगु में मेंतुलु, तमिल में वेंडयम, मलयालम में वेन्तियम, अंग्रेजी में फेनुग्रीक और लेटिन में त्रायिगोनेल्ला फोएनम ग्रीकम के नाम से जाना जाता है।

मेथी खाने के फायदे | Methi ke Fayde

1. ब्लड शुगर को करे कम

मेथी कार्बोहाइड्रेट्स का अवशोषण करने में मदद करता है। बिना अवशोषित हुआ कार्बोहाइड्रेट्स ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाता है। मेथी इंसुलिन का निर्माण करता है जो बढ़े हुए ब्लड शुगर लेवल को कम करता है। मेथी दाना टाइप 2 डायबीटिज का प्रभावी इलाज है। यह HbA1C का लेवल भी कम करता है। यह डायबिटीज की जांच करने का ब्लड टेस्ट मार्कर है।

कलौंजी का सेवन करने के 10 बड़े फायदे, ऐसे करें उपयोग

2. वजन को कम करे

मेथी दाना में सोल्युबल फाइबर (घुलनशील रेशा) होता है। घुलनशील रेशा पाचन में मददगार होता है। यह कब्ज को भी दूर करता है। सुबह खाली पेट मेथी (Methi ke Fayde) दाना खाने से भूख कम लगती है। यह मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और अच्छे डाइजेशन को स्टीम्युलेट करता है। यह शरीर में वसा संचय को रोकता है। मेथी दाना खाली पेट खाने से भूख पर नियंत्रण होता है। भूख कम लगने से वजन नियंत्रण होता है।

3. इम्युनिटी और इंफेक्शन नियंत्रण

मेथी दाना में सैपोनिन नामक कंपाउंड होता है। यह शक्तिशाली एंटीबैक्टीरियल प्रोपर्टीज से भरपूर होता है। सैपोनिन्स से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद मिलती है। खाली पेट मेथी दाना खाने से शरीर वायरस और बैक्टीरिया से लड़ने के लिए तैयार होता है। इस वजह से मेथी (Methi ke Fayde) इम्युनिटी को स्ट्रांग करती है।

4. मेथी स्तनों में दूध बढ़ाए | Methi ke Fayde

मेथी खाने से शिशुओं को स्तनपान कराने वाली महिलाओं में दूध का निर्माण तेजी से होता है। दरअसल, मेथी में गेलेक्टेगोग्यु  पाया जाता है। यह कंपाउंड ब्रेस्टफीडिंग में दूध बढ़ाने में फायदेमंद है। मेथी (Methi ke Fayde) दाना एक शक्तिशाली गेलेक्टेगोग्यु  है जो नई माताओं में दूध के निर्माण का काम करता है। यही वजह है कि मेथी दाने के बने लड्डू नई माताओं को दिए जाते हैं।

एक स्टडी के अनुसार गैलेक्टोगॉग्स की चाय पीने से दूध की मात्रा में तो बढ़ोतरी आती ही है, साथ ही यह उसकी गुणवत्ता को भी बढ़ाता है। इसमें विटामिन और मैग्नीशियम होते हैं जो दूध की गुणवत्ता को बढ़ाते हैं और शिशु के समग्र स्वास्थ्य में वृद्धि लाते हैं।

उपयोग- स्तनपान कराने वाली माताओं को आधा चम्मच मेथी (Methi ke Fayde) दाने का पाउडर या दाना पानी में उबालकर पीने से दूध ठीक से बनता है। इसे दिन में दो बार पिया जा सकता है।

5. पुरुषों की यौन क्षमता बढ़ाए

मेथी के दाने पुरुषों के लिए ज्यादातर बेहतर बोता है। इसमे टेस्टोस्टेरोन नामक सेक्स हार्मोन होता है। यह हार्मोन स्पर्म काउंट और फर्टिलिटी को बढ़ाने में मदद करता है। पुरुषों में उनकी उम्र या कुछ मेडिकल कंडीशन्स की वजह से टेस्टस्टोरोन हार्मोन कम होने लगते हैं। मेथी दाना इस हार्मोन को बढ़ाता है। मेथी दाना में फ्युरोस्टैनोलिक सैपोनिन पाया जाता है जो टेस्टस्टेरोन हार्मोन को बनाने में मदद करता है और यह स्पर्म काउंट को बनाने में मदद करता है।

6. कैलेस्ट्रोल को करे कम

मेथी बैड कोलेस्ट्रोल और ट्राग्लिसराइड्स को कम करता है। इसमें 48 फीसद सोल्युबल फाइबर होता है जो शरीर से कोलेस्ट्रोल को कम करने में मददगार है। मेथी हृदय स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। यह ब्लड प्रेशर नियंत्रण रखती है।

7. सूजन में फायदेमंद

मेथी में एंटी-इंफ्लामेटरी और एंटी-कैंसर प्रॉपर्टीज पाई जाती हैं। मेथी में कॉपर, पोटैशियम, कैल्शियम, आयरन, जिंक और मैंगेनिज नामक गुण पाए जाते हैं। यह सभी गुण सूजन को कम करने में सहायक हैं। मेथी जोड़ों के दर्द में होने वाली सूजन और कोलिटिस जैसी बीमारियों में भी मददगार है। मेथी दाना में कई तरह एंटी-ऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं जो शरीर को स्वस्थ रखते हैं।

8. माहवारी का दर्द करे कम

माहवारी यानि पीरियड्स प्रॉब्लम कई महिलाओं के लिए दुखदायक होता है। इसमें होने वाली पीड़ा उनके लिए असहनीय होता है। लेकिन मेथी (Methi ke Fayde) का सेवन उसको कम कर सकता है। मेथी का दाना नेचुरल पेन किलर की तरह काम करता है। इन बीजों में एकालोइड्स पाया जाता है जो दर्द को कम करता है। यह माहवारी में पहले तीन दिन होने वाले दर्द से जल्द निजात दिलाता है।

9. बालों के लिए फायदेमंद

मेथी बालों के विकास के लिए रामबाण इलाज है। बालों में मेथी (Methi ke Fayde) लगाने से डैंड्रफ की समस्या से निजात पाते है। इसका हेयर मास्क बनाकर उपयोग में लाया जा सकता है। बालों का झड़ना रोकने में मेथी के औषधीय गुण लाभदायक है। वास्तव में प्रोटीन बालों की जड़ों में जाकर घना, स्वस्थ एवं मजबूत बनाता है। इसके अलावा इसमें मौजूद लेसीथिन बालों की नमी को बनाये रखता है। मेथी के बीज में प्रोटीन और निकोटिनिक एसिड प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा मेथी बालों के रंग को भी बनाये रखते हैं।

नोट- यहां दिए गए मेथी के फायदे और नुकसान सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं। इनका उपयोग करने से पहले किसी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।

FAQ,S

मेथी की तासीर कैसी होती है?

मेथी की तासीर गर्म होती है।

क्या मेथी को रोज लेना सुरक्षित है?

हां, इसकी सीमित मात्रा को प्रतिदिन लिया जा सकता है। हालांकि, अगर आपको कोई बीमारी है, तो उसे डॉक्टर से जरूर पूछना चाहिए।

क्या मेथी को खाली पेट ले सकते हैं?

जी हां, सुबह अंकुरित मेथी के बीज या इससे बनी हर्बल चाय को खाली पेट ले सकते हैं।

क्या मेथी और शहद साथ में ले सकते हैं?

जी हां, मेथी चूर्ण और शहद को साथ में लिया जा सकता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

भारतीय सेना अग्निवीर भर्ती 2022 के रजिस्ट्रेशन शुरू, ऐसे करें आवेदन कलौंजी इन बिमारियों का है रामबाण इलाज, ऐसे करें उपयोग इन बिमारियों से दूर रखता है अखरोट, आज से ही खाना करें शुरू
भारतीय सेना अग्निवीर भर्ती 2022 के रजिस्ट्रेशन शुरू, ऐसे करें आवेदन कलौंजी इन बिमारियों का है रामबाण इलाज, ऐसे करें उपयोग इन बिमारियों से दूर रखता है अखरोट, आज से ही खाना करें शुरू