Health

Omicron : ओमिक्रोन का नया वेरिएंट, लक्षण और बचाव

Omicron : साल 2020 में पहली बार कोरोना के मामले देखे गये। जिसके बाद कोरोना ने पूरे विश्व में बहुत तेजी से तबाही मचाई। कोरोना के अलग- अलग वेरिएंट देखने को मिले। करीब दो सालों से पूरे विश्व ने इस बीमारी से तबाही झेली। भारत में कोरोना ने जो तबाही मचाई देश अभी उससे बाहर नहीं आ पाया है। कोरोना ने एक बड़ी महामारी का रूप ले लिया और पूरे विश्व में लाखों लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी। अभी भी देश में कोरोना के केस आ रहे हैं। लेकिन वैक्सिनेशन के बाद कोरोना संक्रमण में कुछ कमी आई थी।

omicrone

कोरोना का ओमिक्रोन वेरिएंट (Omicron) बहुत ही खतरनाक रहा लेकिन वैक्सिनेशन की वजह से लोगों को थोड़ी राहत रही। रिपोर्ट्स के मुताबिक कोरोना के ओमिक्रोन वेरिएंट का एक नया सब-वेरिएंट पाया गया है। यह वायरस पहले के वायरस की तुलना में और तेजी से फैलता है। ओमिक्रोन का सब वेरिएंट BA.5.1.7. है। इस वेरिएंट की पहचान भारत में भी की जा चुकी है।आइये जानते हैं ओमिक्रोन का नया वेरिएंट लक्षण और बचाव (Omicron)…

क्या है ओमिक्रोन वेरिएंट? What is Omicron

कोरोना (Omicron) के ओमिक्रोन वेरिएंट ने अब तक सबसे ज्यादा तबाही मचाई। यह वेरिएंट बहुत ही खतरनाक साबित हो चुका है। कोरोना वायरस के इस वेरिएंट को अफ्रीका में सबसे तेजी से फैलते देखा गया था। यहाँ तक की इसका पहला मरीज भी अफ्रीका में ही पाया गया था। 15 दिनों के अन्दर ही इस वेरिएंट ने अपना व्यापक रूप धारण कर लिया था।

यह वेरिएंट इतना खतरनाक था कि बहुत से लोगों को अपनी जान भी गवांनी पड़ी थी। विश्व स्वास्थ्य संघठन ने इस वेरिएंट को चिंता का विषय बताया था। अब ओमिक्रोन वेरिएंट के सब-वेरिएंटस का पता लगा है जो ओमिक्रोन से भी ज्यादा घातक बताए जा रहे हैं।  

क्या है ओमिक्रोन का नया वेरिएंट – What is the New Omicron Variant

चीन में कोरोना के मामलों में काफी तेजी आई है और इसकी वजह से कोरोना सक्रमण एक बार फिर बढ़ गया है। चीन में एक बार फिर लॉकडाउन जैसे हालात हैं। इसकी वजह कोरोना के ओमिक्रोन वेरिएंट का सब-वेरिएंट BA.5.1.7. और BF.7 बताया गया है। इस वेरिएंट की पहचान भारत में भी की जा चुकी है।

कोरोना के ओमिक्रोन वेरिएंट का यह सब-वेरिएंट अब तक का सबसे तेजी से फैलने वाला वायरस बताया जा रहा है। यह वायरस भारत में एक नई कोरोना की लहर का कारण बन सकता है। अगले तीन चार हफ्तों में भारत में कोरोना की नई लहर आ सकती है। इसके साथ ही यह सब-वेरिएंट चीन सहित अमेरिका, आस्ट्रेलिया, बेल्जियम और ब्रिटेन आदि देशों में भी फ़ैल चुका है। Also Read – Lumpy Virus : गायों के लिए जानलेवा बना लम्पी वायरस, जानिए कारण, लक्षण और इलाज

क्या है ओमिक्रोंन के सब-वेरिएंट के लक्षण – Omicron sub- variant Symptoms

कोरोना वायरस (Corona Virus) के डेल्टा वेरिएंट में ज्यादा गंभीर लक्षण थे जिससे इंसान कोरोना संक्रमित होने का अंदाजा लगा सकता था। लेकिन कोरोना के ओमिक्रोन वेरिएंट (Omicron) में सर्दी खांसी जैसे आम लक्षण ही दिखाई दिए थे। एकदम नार्मल खांसी और सर्दी के लक्षण की वजह से लोगों को इसका अंदाजा भी नही हो पाता था कि वे कोरोना संक्रमित हैं।

ओमिक्रोन में बुखार या कोई और खास लक्षम नहीं थे। संक्रमित व्यक्ति को खांसी होती थी और टेस्ट के दौरान वह कोरोना संक्रमित पाया जाता था। ओमिक्रोन के नए वेरिएंट में भी कुछ ज्यादा खास लक्षण नहीं बताए गये हैं।

omicrone

डॉक्टर्स का कहना है कि भारत में सब तक इतने केस नहीं मिले कि ज्यादा स्टडी किया जा सके लेकिन ओमिक्रोन की तरह ही कुछ लक्षण हैं इस नए वेरिएंट में भी। ओमिक्रोन के नए वेरिएंट से संक्रमित व्यक्ति को ज्यादातर बदन दर्द होगा। शरीर में तेजी से दर्द ही इसका प्रमुख लक्षण माना जा रहा है।

इसके अलावा नए वेरिएंट के लक्षणों में गले में खरास, खांसी, थकान, कफ और बहती नाक को सामान्य लक्षण बताया जा रहा है। लेकिन यह वायरस अब तक का सबसे तेजी से फैलने वाला वायरस बताया जा रहा है। डॉक्टर्स का कहता है कि भारत में यह नया वायरस तेजी से फ़ैल सकता है। Also Read – मंकीपॉक्‍स क्‍या है? जानिए लक्षण और इसके बारे में पूरी जानकारी

बन सकता है भारत में कोरोना की नई लहर का कारण

देश के जाने-माने चिकित्सकों का कहना है कि यह वायरस भारत में नई लहर के फैलने का कारण हो सकता है। यह वायरस बहुत ही तीव्र गति से लोगों में फैलता है, क्योंकि इस समय भारत में त्यौहार होने वाले हैं और बहुत सी जगहों में भीड़-भाड़ रहेगी और लोग इक्कट्ठा होंगे इसलिए देश में यह वायरस तेजी से फ़ैल सकता है।

इस वायरस के कोई खास लक्षण भी नहीं हैं तो लोग सामान्य सर्दी खांसी समझकर लापरवाही करेंगे और अन्य लोगों के सम्पर्क में रहेंगे इससे यह वायरस और तेजी से फैलेगा और यह भारत में नई कोरोना लहर का कारण बन सकता है। सर्दी के मौसम में कोरोना बहुत तेजी से फैलता है और भारत में सर्दियों की शुरुआत हो चुकी है ऐसे में सामान्य खांसी, जुखाम और कोरोना के लक्षणों के अंतर को समझना इतना आसान नहीं होगा। Also Read – ये 5 फूड डायबिटीज को करते हैं कंट्रोल, आज से करें सेवन

कैसे बचें ओमिक्रोन के नए वेरिएंट से

ओमिक्रोन (Omicron) के नए वेरिएंट से बचने का सबसे बड़ा तरीका यही है कि एक बार फिर मास्क पहनना शुरू करें और बिना मास्क के बाहर बिल्कुल न निकलें। कोरोना की वैक्सीन लगने के बाद कोरोना के नियमों और मास्क लगाने सम्बन्धी नियमों में सरकार ने छूट दे दी थी। इस कारण से लोग बिना मास्क के रहने लगे हैं। कोरोना के नए वेरिएंट से बचाव के लिए मास्क सबसे ज्यादा जरूरी है।

omicrone

इसके अलावा यदि सामान्य सर्दी खांसी के लक्षण दिखाई दें तो भी खुद को बाकि लोगों से अलग कर लें और कोरोना की जाँच करा लें। त्योहारों के दौरान ज्यादा भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें। कोरोना से बचाव के लिए जारी गाइड लाइंस को एक बार फिर अमल में लाएं। अपने हाथों को साबुन पानी की मदद से धोते रहें और सैनेटाईजर का उपयोग करें और सोशल डिसटेंसिंग बनाएं रखें। यह वायरस वैक्सीन लगवा चुके लोगों में भी फ़ैल रहा है इसलिए कमजोर इम्यूनिटी वाले लोग कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज भी लगवा लें।

FAQ,s

कोरोना का कौन सा नया वायरस फ़ैल रहा है?

ओमिक्रोन का सब- वेरिएंट BA.5.1.7.

ओमिक्रोन के नए वेरिएंट का नाम क्या है?

BA.5.1.7.

कोरोना की नई लहर भारत में कब तक आ सकती है?

3 से 4 हफ़्तों में

ओमिक्रोन के नए वेरिएंट के लक्षण क्या हैं?

बदन दर्द, गले में खरास, खांसी, थकान, कफ और बहती नाक आदि

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Black Water क्या है? जो सेलिब्रिटीज की है पहली पसंद जानिए अब तक कितना बन गया है राममंदिर? Digital Rupee क्या है? जानिए कैसे बदलने वाली है आपकी जिंदगी IPL 2023 में आ रहा विस्फोटक ऑलराउंडर, धोनी के छक्के भी पड़ जाएंगे फीके विराट कोहली का इन हसीनाओं से रह चुका है चक्कर